देश

भारी बारिश से आफत, टूटा देहरादून-ऋषिकेश के बीच पुल, बही कई गाड़ियां, लोगों की तलाश शुरू

पिछले 48 घंटों से हो रही बारिश के कारण देहरादून में तबाही के मंजर नजर आ रहे हैं. भारी बारिश के कारण रानी पोखरी के नजदीक देहरादून-ऋषिकेश ब्रिज टूट गया. जिसके बाद कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए. वहीं लगातार हो रही बारिश से मालदेवता-सहस्रधारा लिंक रोड कई मीटर तक नदी में समा गया. यह घटना खेरी गांव की है. यहां भारी बारिश की वजह से सड़क में कटाव हो गया और पूरा रास्ता पानी में बह गया. यहां दो गाड़ियों के भी बहने की सूचना है. रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है.

देहरादून-ऋषिकेश ब्रिज का वीडियो…

मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. उत्तराखंड में 5 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. इन जिलों में नैनीताल, चंपावत, उधमसिंह नगर, बागेश्वर और पिथौरागढ़ शामिल हैं. इसके अलावा देहरादून, टिहरी, पौड़ी जिलों के कुछ हिस्सों में भी बारिश की संभावना को देखते हुए येलो अलर्ट जारी हुआ है.

उत्तराखंड में पहले ही मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया था. विभाग ने कई जिलों में रेड अलर्ट जारी किया था. इससे पहले बुधवार को भी उत्तराखंड में शहर की बाहरी सीमा पर स्थित खाबड़ाला गांव में सातला देवी मंदिर के पास बादल फटने से नदियों और धाराओं में बाढ़ आ गई थी.

राज्य आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि मंगलवार देर रात बादल फटने के बाद बाढ़ का पानी घरों में घुस आया, बिजली के खंभे और पेड़ कई जगहों पर गिर गए और दो पहिया वाहन पानी में बह गए थे. हालांकि, इस घटना में किसी व्यक्ति को कोई नुकसान नहीं पहुंचा.

पिथौरागढ़ जिले के बलुवाकोट के जोशी गांव में बादल फटने से भारी तबाही मची है. बादल के फटने से आए मलबे में एक महिला के दबने की खबर है. स्थानीय लोगों के साथ ही एसडीआरएफ और एनडीआरएफ द्वारा महिला को खोजने के लिए रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है.

वहीं मलवा हटाने के लिए जेसीबी मशीनें भी काम मे जुटी हैं. इस भूस्खलन की वजह से गांव के 10 परिवारों को खतरा पैदा हो गया है, जिन्हें प्रशासन द्वारा सुरक्षित जगहों में शिफ्ट कर दिया गया है. भूस्खलन की वजह से गांव के उपजाऊ खेतों को भी भारी नुकसान पहुंचा है

Related Articles

Back to top button
Close